NationalPoliticsTop Storiesदेश

अगर धार्मिक जुलूस या शोभायात्रा निकाली तो देना होगा हलफनामा: CM Yogi

Coronavirus ने एक बार फिर से लोगों को अपनी चपेट में लेना शुरू कर दिया है। CM Yogi Adityanath के निर्देश के बाद मंगलवार(19 अप्रैल) को UP सरकार ने धार्मिक जुलूसों और शोभायात्रा आदि के आयोजन के लिए मंज़ूरी को अनिवार्य बनाने वाला आदेश जारी कर दिया। इस नए आदेश के मुताबिक धार्मिक जुलूस या शोभायात्रा निकालने से पहले आयोजक को अनिवार्य रूप से हलफनामा देना होगा।

Delhi के जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती के दौरान हुई हिंसा के बाद UP सरकार ने एहतियातन कई कदम उठाए हैं। त्यौहारों को देखते हुए चार मई तक यूपी पुलिस के फील्‍ड में तैनात सभी अधिकारियों (थानेदार से लेकर एसपी तक) की छुट्ट‍ियां निरस्‍त कर दी गई हैं। पहले से छुट्टी पर गए अधिकारियों से 24 घंटे के अंदर ड्यूटी पर लौटने को कहा गया है। 18 अप्रैल की देर रात अधिकारियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए निर्देशित करते हुए CM Yogi Adityanath ने पुलिस अधिकारियों को ईद और अक्षय तृतीया पर अतिरिक्‍त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए। ये दोनों त्‍योहार एक ही दिन पड़ने की संभावना है। CM Yogi ने कहा है कि धार्मिक कार्यक्रम निश्चित स्‍थानों पर ही होने चाहिए और इससे ट्रैफिक का मूवमेंट प्रभावित नहीं होना चाहिए।

अब धार्मिक जुलूस या शोभायात्रा के लिए इजाज़त देने से पहले आयोजक को शांति और सद्भाव क़ायम रखने का हलफनामा देना होगा। मंज़ूरी सिर्फ परम्‍परागत जुलूसों-शोभायात्राओं को दी जाएगी, नए आयोजनों को नहीं। CM Yogi ने एसएचओ से लेकर एडीजी स्‍तर तक के अधिकारियों से अपने इलाके के धार्मिक गुरुओं और सभ्रांत नागरिकों से अगले 24 घंटे के दौरान संवाद करने को कहा है ताकि त्यौहारों के दौरान शांति व्‍यवस्‍था सुनिश्चित की जा सके। इसके साथ ही उन्‍होंने शरारतपूर्ण बयान देने वालों के साथ सख्‍ती से पेश आने को निर्देश दिया है।

यह भी पढ़ें – धार्मिक परिसर से बाहर न आए माइक की आवाज़: CM Yogi

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button