Politicsविश्व समाचार

अंधेरे में रमज़ान की Namaz अदा कर रहे पाकिस्तानी, जानें वजह

पाकिस्तान में इन दिनों जैसा माहौल है उससे सभी वाक़िफ़ हैं। पाकिस्तान में बिजली की समस्या जस की तस बनी हुई है। सरकारों के तमाम वादों के बावजूद पाकिस्तानी अंधेरे में रहने को मजबूर हैं। कराची शहर का हाल यह है कि यहां लोगों को रात के अंधेरे में ही रमज़ान के दौरान Namaz अदा करनी पड़ रही है। केवल कराची ही नहीं, बल्कि पाकिस्तान के कई शहरों का यही हाल है। इसे लेकर लोगों में रोष बढ़ता जा रहा है।

लोग बिजली कटौती की शिकायत लेकर ऑपरेटर्स के पास जाते हैं, लेकिन वहां भी इनकी कोई सुनवाई नहीं होती है। फ्यूल की कमी और टेक्निकल खराबियों के चलते बिजली की सप्लाई काफी हद तक बाधित हुई है। ऐसे में पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ पर बिजली मुहैया कराने को लेकर दबाव बढ़ता जा रहा है। तमाम राज्यों की सरकारें लोड शेडिंग के मसले में खत्म करने में नाकाम रही हैं। बताया गया कि गैस और कोयले की सप्लाई न हो पाने की वजह से देश के 9 स्वतंत्र पॉवर प्रोड्यूसर्स को भी बंद कर दिया गया है। इसके अलावा 18 पॉवर प्लान्ट्स में टेक्निकल गड़बड़ियां आ गई हैं, जिससे वो काफी समय से बंद हैं।

पीएम शहबाज इस मसले पर एक अर्जेंट मीटिंग कर चुके हैं। इस दौरान पॉवर और पेट्रोलियम सेक्टर की ओर से उन्हें डिटेल में जानकारी दी गई। मीटिंग के दौरान शहबाज के समक्ष रिपोर्ट पेश किया गया, जिसमें बताया गया कि देश भर में फ्यूल की कमी और टेक्निकल खराबियों की वजह से 27 पॉवर प्लांट्स काम नहीं कर रहे हैं। इन्हें जल्द से जल्द ठीक किए जाने की ज़रूरत है।

यह भी पढ़ें – मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट, फिर बढ़ेगी Delhi में Garmi

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button