जरूर पढ़ेताजा खबरविदेशविश्व समाचार

Maldives की राजधानी में आग लगने से 9 भारतीय समेत 1 बांग्लादेशी की जलकर मौत

मालदीव की राजधानी माले में गुरुवार को विदेशी कामगारों के घरों में भीषण आग लगने से 10 लोगों की जलने से मौत गई जिसमें 9 भारतीय थे 1 बांग्लादेशी था.

Maldives Fire: मालदीव की राजधानी माले में गुरुवार को विदेशी कामगारों के घरों में भीषण आग लगने से 10 लोगों की जलने से मौत गई जिसमें 9 भारतीय थे 1 बांग्लादेशी था. इ,स हादसे में कई लोग घायल हो गए जिन्हें इलाज के लिए भर्ती कराया गया है साथ है जले हुए भारतीय नागरिकों की पहचान की जा रही है।

पीड़ितों की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी

दमकल सेवा के एक अधिकारी ने कहा कि उन्हें आग को काबू पाने में चार घंटे का समय लगा. मृतकों में नौ भारतीय और एक बांग्लादेशी नागरिक शामिल हैं. आग में नष्ट हुई एक इमारत की ऊपरी मंजिल से उन्होंने 10 शव बरामद किए. बताया जा रहा है कि आग बिल्डिंग के ग्राउंड फ्लोर के कार रिपेयरिंग गैराज में लगी थी। मालदीव में भारतीय उच्चायोग (Indian High Commission) ने माले में आग लगने की इस घटना पर शोक जताया है, जिसमें 9 भारतीय नागरिकों समेत कुल 10 लोगों की मौत हुई है. भारतीय दूतावास ने कहा कि वह इस घटना को लेकर मालदीप सरकार के संपर्क में बने हुए हैं. भारतीय उच्चायोग ने पीड़ितों की मदद के लिए जारी किए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है।

मालदीव सरकार के एक उच्च अधिकारी ने बताया कि पुलिस मृतकों की पहचान करने में जुटी हुई है. साथ ही पीड़ितों की मदद के लिए हर संभव कोशिश की जा रही है. मालदीव के नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी ने ट्ववीट कर बताया कि माले में लगी आग के प्रभावितों के लिए एक स्टेडियम में राहत एवं बचाव केंद्र बनाया गया है।

माले में हुई इस दर्दनाक घटना को लेकर यहां काम कर रहे विदेशी कामगारों की बुरी परिस्थितियों का मामला एक बार फिर से चर्चा में आ गया है. मालदीव के राजनीतिक दलों ने यहां काम कर रहे विदेशी श्रमिकों के लिए स्थितियों की आलोचना की है. माना जाता है कि वे माले की 250,000 की आबादी का लगभग आधा हिस्सा हैं और ज्यादातर बांग्लादेश, भारत, नेपाल, पाकिस्तान और श्रीलंका से हैं. कोरोना काल में मालदीव में विदेशी कामगारों की दयनीय स्थिति का मामला सबसे पहले सामने आया था. उस समय मालदीव के लोकल लोगों की तुलना में विदेशी कामगारों में कोरोना संक्रमण तीन गुना ज्यादा तेजी से फैला था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button