Lifestyleस्वास्थ्य समाचार

सेहत और ख़ूबसूरती दोनों को बनाए रहता है ‘Anar’

हर इंसान खुद को हमेशा जवान बने देखना चाहता है। खुद को खूबसूरत देखने के लिए लोग न जाने क्या क्या करते हैं और न जाने कितनी क्रीम पाउडर इस्तेमाल कर डालते हैं लेकिन अनार(Anar) एक ऐसा फल है जिसका इस्तेमाल करके आप न जाने कितने ही फ़ायदे उठा सकते हैं। कोशिश करें कि हफ्ते में दो से तीन बार Anar का जूस ज़रूर पिएं। इससे आपको सफेद बालों से लेकर कमजोर हड्डियों और झुर्रियों तक की शिकायत को दूर रखने में खासी मदद मिलेगी।

जान लें, Anar के फ़ायदे तो आप भी नहीं रह पाएंगे इससे दूर

शोधकर्ताओं के मुताबिक Anar में ‘यूरोलिथिन-ए’नाम का एक यौगिक भरपूर मात्रा में पाया जाता है। यह कोशिकाओं के बूढ़े होते या मृत पड़ चुके ‘माइटोकॉन्ड्रिया’को रिसाइकिल करने में अहम भूमिका निभाता है। ‘माइटोकॉन्ड्रिया’ किसी भी कोशिका का ऊर्जा केंद्र कहलाता है। उम्र ढलने के साथ इसकी कार्यक्षमता में गिरावट आने लगती है। कुछ मामलों में यह जहर में भी तब्दील हो सकता है।

मुख्य शोधकर्ता जेसिका निब्स ने दावा किया कि ‘यूरोलिथिन-ए’एकमात्र ऐसा ज्ञात यौगिक है,जो ‘माइटोकॉन्ड्रिया’ को रिसाइकिल करने की क्षमता रखता है। ‘माइटोकॉन्ड्रिया’के हमेशा सक्रिय और ऊर्जावान बने रहने से हड्डी-मांसपेशियों में क्षरण, बाल पकने, आंखों की रोशनी घटने और त्वचा पर झुर्रियां पड़ने सहित बुढ़ापे से जुड़े तमाम लक्षण लंबे समय तक आसपास नहीं फटकते। विटामिन ए, सी और ई की मौजूदगी भी Anar को लंबी उम्र की सौगात देने में सक्षम बनाती है।

अनार अपने ट्यूमर-रोधी गुणों के लिए भी जाना जाता है। यह फ्री-रैडिकल को कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाने से रोकता है। विभिन्न अध्ययनों में इसे कोशिकाओं में सूजन और जलन की समस्या दूर रखने में खासा असरदार पाया गया है। यूएस नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के एक अध्ययन में तो स्तन, प्रोस्टेट, आंत और फेफड़ों के कैंसर का खतरा घटाने के लिए नियमित रूप से Anar का सेवन करने की सलाह तक दी गई है।

यह भी पढ़ें – चाय के साथ ‘Potli Samosa’ बढ़ा देगा आपके नाश्ते का स्वाद

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button