NationalPoliticsTop Storiesदेश

Aaditya Thackeray ने बताया Loudspeakers के इस्तेमाल का सही तरीका

इन दिनों Loudspeakers पर हर कोई आपको बोलता हुआ नज़र आ जाएगा। हर जगह मस्जिदों से Loudspeaker हटाने के चर्चे हो रहे है़। महाराष्ट्र के मंत्री Aaditya Thackeray ने शुक्रवार(15 अप्रैल) को अपने चाचा Raj Thackeray को नसीहत दे डाली। उन्होंने कहा कि मस्जिदों से Loudspeaker हटाने के बजाय,उन Loudspeakers का इस्तेमाल केंद्र पर तंज करते हुए बढ़ती महंगाई, पेट्रोल, डीजल या सीएनजी की कीमतों के बारे में बोलने के लिए किया जाना चाहिए।

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री Aaditya Thackeray ने Loudspeaker विवाद पर टिप्पणी करते हुए कहा, “किसी को पेट्रोल, डीजल या सीएनजी के बारे में बोलना चाहिए और हाल के 2-3 वर्षों पर ध्यान देना चाहिए, न कि पिछले 60 वर्षों पर।” Aaditya Thackeray का यह बयान महाराष्ट्र नव निर्माण सेना प्रमुख और अपने चाचा Raj Thackeray के उस बयान के बाद आया है। जिसमें Raj Thackeray ने सरकार को चेतावनी दी थी कि सभी मस्जिदों से Loudspeakers को हटा लिया जाए।

रागुड़ी पड़वा रैली में Raj Thackeray द्वारा उठाई गई मस्जिदों के बाहर से Loudspeaker हटाने की मांग एक बड़े विवाद में बदल गई है, जिसका असर अन्य राज्यों में भी महसूस किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश में, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की छात्र शाखा एवीबीपी ने अलीगढ़ जिला प्रशासन से प्रमुख चौराहों पर हनुमान चालीसा बजाने के लिए Loudspeaker लगाने की अनुमति मांगी है। कर्नाटक की मस्जिदों को Loudspeaker की डेसीबल सीमा पर पुलिस के आदेश मिले हैं।

Raj Thackeray ने अपनी धमकी दोहराई और सरकार को 3 मई तक का समय दिया है जिसके पहले सभी Loudspeakers को हटाने को कहा गया है नहीं तो धमकी दी है कि उनकी पार्टी के लोग मस्जिदों के सामने हनुमान चालीसा बजाएंगे।

महाराष्ट्र सरकार ने मनसे के खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार करते हुए कहा है कि सरकार किसी को भी राज्य का माहौल खराब नहीं करने देगी। जबकि शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि डेसिबल के स्तर के बारे में नियम पहले से ही मौजूद हैं, उपमुख्यमंत्री और राकांपा नेता अजीत पवार ने कहा कि Raj Thackeray को इतना महत्व नहीं दिया जाना चाहिए। राकांपा नेता जयंत पाटिल ने पहले कहा था कि Raj Thackeray भाजपा के इशारे पर काम कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें – इन मर्दों ने Kareena Kapoor का जीना किया दूभर, एक पिक क्लिक करवाने के लिए भी…

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button