Home Breaking News किसान क्रांति यात्रा: दिल्ली बॉर्डर पर पुलिस और किसानों में झड़प, आंसू गैस के गोले दागे

किसान क्रांति यात्रा: दिल्ली बॉर्डर पर पुलिस और किसानों में झड़प, आंसू गैस के गोले दागे

2 second read
0
0
21

नई दिल्ली। भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले हजरों किसान नौ दिन की यात्रा के बाद दिल्ली बॉर्डर तक पहुंच गए हैं। किसान राजघाट से संसद तक मार्च निकालना चाहते हैं लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक रखा है। पुलिस ने किसानों पर नियंत्रण के लिए पानी की बौछारें की और आंसू गैस के गोले छोड़े। दिल्ली सीमा पर स्थिति बेहद तनावपूर्ण बनी हुई है। किसानों को दिल्ली में घुसने से रोकने के लिए पुलिस लगातार बल प्रयोग कर रही है। दिल्ली में दाखिल होने वाले हर रास्ते को सील कर दिया गया है। दिल्ली से कौशांबी जाने वाले रूट में भी बदलाव किया गया है।

किसानों को रोकने के लिए गाजीपुर बॉर्डर, महाराजपुर बॉर्डर और अप्सरा बॉर्डर पर पुलिस खासतौर से चौकस है। गाजीपुर बॉर्डर को तो पुलिस ने पूरी तरह सील कर रखा है, जबकि महाराजपुर और अप्सरा बॉर्डर पर भी बैरिकेडिंग करके आने-जाने वालों पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। सभी जगहों पर भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया है, ताकि अगर किसान जबर्दस्ती दिल्ली में घुसने की कोशिश करें, तो उन्हें रोका जा सके। बॉर्डर पर वॉटर कैनन, आंसू गैस आदि का भी पुलिस ने पूरा इंतजाम कर रखा है। साथ ही एक्स्ट्रा फोर्स भी लगा दी गई है।

सोमवार शाम ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के डीसीपी पंकज सिंह ने पूरी ईस्ट दिल्ली में धारा-144 लगाने का आदेश जारी कर दिया। खास बात यह है कि ये आदेश 8 अक्टूबर तक लागू रहेगा। इस दौरान लोगों के इकट्ठा होने, ट्रैफिक को डिस्टर्ब करने, लाउडस्पीकर के इस्तेमाल, भाषणबाजी, हथियारों के इस्तेमाल, लाठी और चाकू जैसी चीजों के इस्तेमाल, पत्थर इकट‌्ठा करने, मशाल जलाने जैसी तमाम गतिविधियों पर रोक लगा दी गई है। उल्लंघन करने वालों को तुरंत गिरफ्तार किया जाएगा। वहीं नॉर्थ-ईस्ट डिस्ट्रिक्ट में भी 4 दिनों के लिए धारा 144 लगा दी गई है।

बॉर्डर सील होने और गाड़ियों की चेकिंग और पिकेटिंग के साथ भारी पुलिसबल की तैनात के चलते ईस्ट दिल्ली के सीमावर्ती इलाकों में लोगों को भारी जाम से जूझना पड़ रहा है। सोमवार शाम ईस्ट दिल्ली के कई इलाकों में जाम लगने से लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। जिन लोगों को आनंद विहार रेलवे स्टेशन से ट्रेन पकड़नी थी या बस अड्डे से बस लेकर यूपी या अन्य राज्यों में जाना था, उन्हें खासी परेशानी झेलनी पड़ी।

Load More Related Articles
Load More By Ankit Nagar
Load More In Breaking News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने गांधीजी की जयंती की जगह मना दी पुण्यतिथि

पटना। बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने मंगलवार को गांधी जयंती के अवसर पर ट्वीट क…